7 ऐसी वजह जिससे चीन क्रिकेट नहीं खेलता है?

क्रिकेट हम भारतियों को कितना पसंद है यह पूरी दुनिया को पता है हम भारतीय क्रिकेट में बहुत रूचि रखते है।

और इस खेल में हमारी टीम हैं। जिसका दमखम पूरी दुनिया जानती हैं।

क्रिकेट को दुनिया के कई देश खेलते व पसंद करते हैं। अभी हालही में T20 विश्वकप समाप्त हुआ हैं। जिसको ऑस्ट्रेलिया ने अपने नाम किया।

फूटबाल के बाद विश्व में क्रिकेट सबसे लोकप्रिय खेल है जिसका अविष्कार अंग्रेजो ने किया था।

इस बीते T20 में दुनिया भर से लगभग 80 से अधिक देशो ने हिस्सा लिया था लेकिन चीन कभी भी क्रिकेट के किसी भी प्रारूप में हिस्सा नहीं लेता हैं।

इसलिए सभी के मन में एक विचार उत्पन्न होता हैं की “आज पूरी दुनिया क्रिकेट खेलती है लेकिन चीन नहीं आखिर क्यों?”

चीन क्रिकेट क्यों नहीं खेलता हैं?

आज पूरी दुनिया क्रिकेट खेलती है लेकिन चीन नहीं आखिर क्यों?

(1). सदियों से चीन में क्रिकेट नहीं खेला गया। यहाँ के लोग क्रिकेट के बारे में कुछ नहीं जानते है इसकी वजह यह है की चीन कभी भी अंग्रेजो का गुलाम नहीं बना था।

क्योकि जिस देश पर अंग्रेजो ने हुकूमत की वह सभी देश क्रिकेट खेलते है। अंग्रेजो ने अपने राष्ट्रीय खेल को अपने द्वारा कब्ज़ा किये देशो को सीखा दिए।

(2). और दूसरी वजह यह भी है की चीन ओलेम्पिक खेलो को बहुत तवज्जुब देता है

(3). क्रिकेट का बजेट भी बहुत ज्यादा है और चीन सस्ते खेलो को पसंद करता है महंगे खेलो को नहीं।

(4). अंग्रेजो द्वारा China का उपनिवेश कभी नहीं किया गया।

(5). चीन की जनसँख्या दुनिया में सबसे अधिक है।

(6). चीन उस खेल को खेलना चाहता है जिसमे समय और लागत काम हो।

(7). चीन के लोग ज्यादा लम्बे नहीं होते हैं और क्रिकेट में लम्बाई का बहुत महत्व हैं।

आज पूरी दुनिया क्रिकेट खेलती है लेकिन चीन नहीं आखिर क्यों?

मैंने आप लोगों को वह वजह बताई जिसकी वजह से चीन क्रिकेट नहीं खेलता हैं।

और शायद भविष्य में कभी भी चीन क्रिकेट नहीं खेले।

आपको क्या लगता है की चीन भविष्य में क्रिकेट खेलेगा की नहीं।

अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर दे।

1 thought on “7 ऐसी वजह जिससे चीन क्रिकेट नहीं खेलता है?”

Comments are closed.